सोनिया और राहुल गांधी

दिल्ली में एमसीडी चुनावों से पहले कांग्रेस की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. अरविंदर सिंह लवली के बाद अब दिल्ली प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्षा बरखा शुक्ला सिंह ने भी अपना इस्तीफा दिया है. गुरुवार को बरखा ने अपना इस्तीफा सोनिया गांधी के पास भेज दिया है. बरखा ने दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर कई तरह के आरोप भी लगाए. बरखा ने कहा कि अगर राहुल गांधी से पार्टी नहीं संभल रही तो वह छोड़ दे. बरखा ने कहा कि अगर राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाया गया तो यह डिजास्टर होगा.

बरखा ने अजय माकन और राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी महिला सुरक्षा का मुद्दा काफी जोरों शोरों से उठाती है, लेकिन उसकी कथनी और करनी में काफी अंतर है. बरखा ने कहा कि एक साल पहले मेरे साथ बदतमीजी हुई थी, जिसकी शिकायत मैंने सोनिया गांधी से भी की थी. लेकिन उस पर कोई भी कार्रवाई नहीं की गई थी.

बरखा ने कहा – हम मिलने गए थे और राहुल पार्टी में बिजी थे
बरखा ने टिकट बंटवारें के ऊपर भी बात की, उन्होंने कहा कि जब महिलाओं को टिकट देने की बारी आई तब उन्होंने इस मुद्दे को दरकिनार कर दिया. इस मुद्दे पर हम राहुल गांधी से मिलने पहुंचे थे, लेकिन उनका चपरासी भी मिलने तक नहीं आया. 28 मार्च को हमने राहुल गांधी से मिलने की कोशिश की, लेकिन कुछ नहीं हो पाया. उस दिन महिलाओं का व्रत था, लेकिन राहुल गांधी उस रात संगरीला होटल में पार्टी करने में व्यस्त थे.

हमारी कोई नहीं सुनता
उन्होंने कहा कि अगर विनय कटियार जैसे लोग प्रियंका गाँधी पर कमेंट करते हैं, तो राहुल गांधी के ऑफिस की ओर से हमें प्रदर्शन करने को कहा जाता है. लेकिन जब हम पार्टी के अंदर किसी की शिकायत करते हैं, तो हमारी सुनवाई नहीं होती है.

आपको बता दें कि हाल ही में दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली ने कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here