THE candy world : आजकल सोशल मीडिया पर सोनू निगम को लेकर बवाल मचा हुआ है। ऐसे में कुछ लोग उनके पझ में बोल रहे हैं को कऊ उनके खिलाफ बोल रहे हैं।

लेकिन इन विवादों से हटकर हम आपको उनके जीवन की कुछ महत्वपूर्ण बातों को बताने जा रहे हैं। बॉलीबुड के कई गानों में अपनी आवाज का जादू बिखेरने वाले सोनू निगम का जन्म फरिदाबाद के ‘नेशन हट’ नाम की जगह पर 30 जुलाई 1973 को हुआ था।
वैसे सोनू का जन्म तो .हां हुआ था लेकिन उनके दादा दादी भारत के बंटवारे से पहले कहीं और रहते थे।  भारत-पाकिस्तान बंटवारा होने के बाद रिफ्यूजी के तौर पर भारत आए सोनू निगम के दादा ‘नेशन हट्स’ में रहने लगे थे।
सोनू आज भी वहां अपने पुराने दोस्तों से मिलने आते रहते हैं। उनके एक दोस्त ने बताया कि बचपन में हम एक पीपल के पेड़ के नीचे एक साथ बैठकर
रोटियां खाया करते थे।
यहां पीपल का वह पेड़ आज भी है, जहां सांझा चूल्हे के तौर पर एक तंदूर लगता था और पूरे मोहल्ले की रोटी वहीं पकती थीं। सभी पेड़ के नीचे बैठकर खाया करते थे। बचपन में सोनू ने भी सामूहिक रूप से बैठकर रोटियां खाई हैं।
बता दें कि सोनू के पिता अगम निगम और बहन भी सिंगर हैं। बताया जाता है कि अगम को गाने का शौक था। अपने इस शौक के कारण कई बार उन्हें घर में अपने पिता से डांट खानी पड़ती थी। दरअसल, 1960 के दशक में दो जून की रोटी के लिए लोग तरसते थे। ऐसे में अगम के गाने का शौक उनके
माता-पिता को अच्छा नहीं लगता था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here